दोस्त की बीवी को बियर पिला कर होटल के रूम में चोदा


हैल्लो फ्रेंड्स मेरा नाम कुणाल है और में कोलकाता का रहने वाला हूँ और में आज आप सभी को अपनी लाईफ की एक सच्ची घटना सुनाने जा रहा हूँ. मेरी लम्बाई 6 फीट और मेरी उम्र 27 साल है, में दिखने में एकदम ठीक ठाक हूँ, लेकिन मुझे सेक्सी कहानियाँ पढ़ने के बहुत शौक है और पिछले कुछ सालों से इसकी कहानियाँ पड़ता हूँ और बहुत मज़े भी करता हूँ.

दोस्तों अब में आप सभी का ज्यादा समय खराब ना करते हुये सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ. दोस्तों में कोलकाता में एक अपार्टमेंट में किराए से रहता हूँ और उसकी पहली मंजिल पर मेरा घर है और उसी की दूसरी मंजिल पर एक फेमिली रहती है. उस फेमिली में पति, पत्नी और एक उनका बच्चा रहता है और वो एक बहुत छोटी सी फेमिली है और उनसे मेरी ज्यादा अच्छी दोस्ती नहीं थी, लेकिन बस कभी कभी सप्ताह के आखरी में ड्रिंक करने के लिए हम दोनों को एक दूसरे की कंपनी मिल जाती थी और उनकी पत्नी नेहा से भी मेरा व्यहवार बहुत अच्छा था और वो भी कभी कभी हमारा साथ दे दिया करती थी.

दोस्तों नेहा एक पतली दुबली, एकदम सुंदर औरत थी. उसका लंबा कद, 34 साईज़ के बूब्स, गोल गोल कुल्हे और सेक्सी मुस्कान और उसके सेक्सी जिस्म को देखकर दो तीन बार तो मेरा दिल भी बहका, लेकिन में यह बात भी बहुत अच्छी तरह से जानता था कि सब करना मुमकिन नहीं है, तो मैंने उस पर कभी ज़्यादा ध्यान नहीं दिया, लेकिन हाँ एक देवर भाभी वाली खट्टी मीठी नोक झोंक, हंसी मजाक हम दोनों के बीच हमेशा चलती रहती थी और में कभी कभी मजाक ही मजाक में कभी उसकी गांड तो कभी उसके बूब्स को छू लेता और अपने दिल को खुश करता, लेकिन मैंने इस बात पर भी ध्यान दिया कि उसने मुझसे कभी भी कुछ भी नहीं कहा, बस वो मुझे हमेशा अपनी मस्त मुस्कान से अपनी और आकर्षित करती और में उसके नाम की मुठ मारकर अपने लंड को शांत किया करता था.

वो मुझसे बहुत कम समय में बहुत अच्छी तरह से घुल मिल गई थी. दोस्तों वो अपने शरीर पर बहुत ज्यादा ध्यान रखती थी, क्योंकि उसके एक बच्चा होने के बाद भी उसका फिगर एकदम सुडोल और दिखने में बहुत सुंदर था. फिर एक दिन में अमित को बुलाने दूसरी मंजिल पर गया तो मैंने देखा कि उसके घर का दरवाज़ा खुला हुए था.

जब मैंने दरवाजे को बजाया तो अंदर से नेहा की आवाज़ आई कौन है? अंदर आ जाओ दरवाजा खुला हुआ है और फिर जैसे ही में अंदर गया तो मैंने देखा कि नेहा अपने बच्चे को दूध पिला रही थी और एकदम से मेरे अंदर आने की वजह से उसने दुपट्टे से अपने बूब्स को ढक लिया था, लेकिन फिर भी उसका एक बूब्स जिसको उसने मुझसे छुपाने की बहुत कोशिश की थी, लेकिन उस जालीदार दुपट्टे में कुछ कुछ दिख रहा था और में अपनी नज़रें संभाल ही नहीं पा रहा था मेरी नजरें हर बार वहीं पर जा रही थी.

फिर उसने मुझे बताया कि उसका पति अभी घर पर नहीं है और वो कुछ जरूरी काम की वजह से अपने गावं गया हुआ है. तो मैंने कहा कि ठीक है और फिर में वहां से वापस चला आया, लेकिन में वो सब नजारा देखकर एकदम पागल सा हो गया था और में अपने अपार्टमेंट में आते ही सीधा बाथरूम में गया और उसके मस्त बूब्स को सोच सोचकर मुठ मारने लगा और में अभी अंदर ही था और अपने काम में बहुत व्यस्त था और मुझे इतना भी होश नहीं था कि में अंदर आते समय दरवाजे को बंद करना भूल गया और बाथरूम में चला गया.

तभी मेरे पीछे पीछे नेहा भी चली आई और वो मुझे बुलाने लगी, तो उसकी आवाज को सुनकर एकदम डर गया और मैंने कहा कि आप बैठो में अभी कुछ देर में आता हूँ और जब में दस मिनट बाद बाहर आया तो नेहा मेरे बेड पर बैठी हुई थी और बहुत आराम से टीवी देख रही थी. तो मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ? कुछ काम है? तो उसने कहा कि नहीं में तो बस ऐसे ही चली आई, मुझे ऐसा कोई विशेष काम नहीं था, लेकिन आज मेरा बियर पीने का बहुत मन हो रहा है. तो मैंने कहा कि अभी तुम्हारा बच्चा बहुत छोटा है और वो तुम्हारा दूध पीता है, उसके साथ तुम्हारा यह सब करना ठीक नहीं होगा.

वो बोली कि छोड़ ना यार जाने कैसे तो मुझे यह मौका मिला है और वैसे भी एक बियर पीने से बच्चे की सेहत पर कोई भी गलत असर नहीं होगा. दोस्तों मैंने उसकी नशीली आखों में देख लिया था कि वो आज मुझसे क्या चाहती है और फिर उसने कुछ नहीं कहा, मैंने फ्रिज से दो बियर निकाली और हम दोनों ने एक एक बियर पी ली तो मैंने महसूस किया कि नेहा को कुछ देर के बाद बियर पीकर बहुत आराम मिला और अब उसे बियर पीने के बाद हल्का हल्का नशा छाने लगा था और वो बेड पर अपनी दोनों आखें बंद करके लेट गई और कुछ ही देर में उसकी आँख लग गयी.

बेड की एक साईड में वो और एक साईड में और बीच में उसका बच्चा सो रहा था, लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी और नेहा ने उस समय सलवार सूट पहन हुआ था और उस सूट में से उसके उभरे हुए बूब्स देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और नेहा क्योंकि गहरी नींद में थी, तो मैंने भी अच्छा मौका देखकर थोड़ी हिम्मत करके सूट के ऊपर से ही उसके बूब्स को छुआ, लेकिन उसने कोई भी हलचल नहीं की और फिर मैंने थोड़ी हिम्मत और करके उसके होंठ पर अपनी उंगली घुमाई और उसके कूल्हों को भी छूकर महससू किया और वापस अपनी साईड पर आकर में नेहा को देखकर अपनी पेंट के अंदर हाथ डालकर मुठ मारने लगा, अपने लंड को सहलाने लगा और उस मदहोश कर देने वाले अहसास की वजह से मेरी भी आँखें धीरे धीरे बंद हो गयी.

तभी अचानक से मैंने महसूस किया कि किसी ने मेरी पेंट के ऊपर से मेरे हाथ को पकड़ कर एकदम से रोक दिया और जब मैंने आँखें खोली तो देखा कि नेहा उठ चुकी थी और उसके हाथ मेरी पेंट पर थे, तो में एकदम घबरा गया और में उसे सॉरी बोलने लगा और फिर वो बोली कि कोई बात नहीं, इस उम्र में ऐसा होना स्वभाविक है और वो मुझसे और बियर माँगने लगी.

तो मैंने दो बियर और खोल दी और बियर पीते हुए उसने मुझसे पूछा कि क्या तुम हमेशा किसी को याद करके ऐसा ही करते हो या अब तक कभी कुछ अपनी गर्लफ्रेंड के साथ किया भी है? तो मैंने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं जैसा आप सोच रही हो और मेरी कोई भी गर्लफ्रेंड नहीं है, वो तो में बस ऐसे ही मूड बन गया था, लेकिन वो मेरे कोई भी जवाब से संतुष्ट नहीं हुई और वो तो बस ज़िद करने लगी, तो आखिरकार मैंने उन्हे सच बता दिया कि में उसके बूब्स को देख देखकर जोश में आ गया था. फिर वो मेरी बात को सुनकर ज़ोर ज़ोर से हंसने लगी और कहा कि चलो अच्छा है कि में अभी भी किसी को इतना गरम कर सकती हूँ कि वो अपने आप पर काबू भी ना रख सके, वर्ना हमारे पति तो कुछ ही देर में ठंडे हो जाते है. उसका यह जवाब सुनकर मेरी हिम्मत और भी बड़ गयी.

फिर मैंने कहा कि नेहा तुम हो ही इतनी सेक्सी कि किसी की भी नियत तुम्हारे इस जिस्म को देखकर खराब हो जाए और अब नशे में वो भी धीरे धीरे खुलने लगी और मुझसे पूछने लगी कि तुम्हे मुझमे और क्या क्या सेक्सी लगता है? तो मैंने कहा कि तुम्हारे गुलाबी गुलाबी होंठ, तुम्हारे मदहोश कर देने वाले कूल्हे और वो पतली कमर पर छोटी सी गहरी नाभि जो साड़ी पहनने पर मुझे कभी कभी दिखती है.

यह बात सुनकर उसने एकदम से बिना कुछ सोचे समझे अपना सूट उठाया और अपनी नाभि और पतली कमर को छूकर देखने लगी, तो मेरा लंड उसे देखकर एकदम से खड़ा हो गया और वो नेहा ने देख लिया और वो मुझसे बोली कि थोड़ा कंट्रोल करो, देखो तुम्हारा बच्चा खड़ा हो रहा है और फिर मैंने भी जोश में आकर अपनी पेंट को पूरा नीचे किया और उसके ही सामने ही मुठ मारने लगा, नेहा भी यह सब देखकर धीरे धीरे गरम हो गई और वो मुझसे बोली कि लाओ में तुम्हे ठंडा कर देती हूँ, तो में उसके पास चला गय और उसने मेरी पेंट को पूरी तरह से उतारा और वो मेरे लंड को सहलाने लगी, तो मैंने कहा कि प्लीज इसे अपने मुहं में लेकर शांत कर दो. वो थोड़ी देर रुकी और कुछ सोचने लगी और फिर उसने मेरे लंड को धीरे धीरे मुहं में लिया और चूसना शुरू कर दिया और मैंने भी एकदम सही मौक देखकर उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए और धीरे धीरे करके उसके सूट को पूरा उतार दिया.

फिर मैंने उसकी ब्रा को उतारा और उसके बूब्स को चूसने, दबाने लगा, में बहुत ज़्यादा गरम हो रहा था और वो भी पूरे जोश में थी, वो अब सिसकियाँ लेने लगी थी. मेरे सर को अपने बूब्स पर दबाने लगी थी जिसकी वजह से मेरे मुहं में उसके दूध का आना बहुत तेज हो चुका था और में भी ज़ोर ज़ोर से चूसकर उसका दूध पीने लगा. फिर मैंने उसकी सलवार पर अपना एक हाथ रखा और धीरे धीरे उसकी चूत की और बढ़ाने लगा, लेकिन उसने एकदम से मेरा हाथ पकड़ा और मुझे रोक दिया.

उसने कहा कि नहीं आकाश, आज इससे ज़्यादा कुछ नहीं होगा. फिर मैंने कहा कि नेहा प्लीज मुझे अब मत रोको, मुझसे अब कंट्रोल नहीं होगा और थोड़ी देर जिद बहस के बाद उसने अपना हाथ हटा लिया, लेकिन उसने किसी को इसके बारे में बताने को मुझसे मना किया और मैंने उससे इसका पक्का वादा किया और मैंने जल्दी से उसकी सलवार उतार दी और मैंने देखा कि उसने काली कलर की जालीदार पेंटी पहन रखी थी और वो पूरी तरह से गीली हो चुकी थी और जब मैंने उसकी पेंटी को उतारा तो उसकी मदहोश कर देने वाली खुशबू पूरे कमरे में फैल गयी, तो मैंने अपना लंड उसके मुहं से बाहर निकाला और में उसकी चूत चाटने लगा और अब वो भी एकदम गरम हो चुकी थी और वो कहने लगी कि मादरचोद और ज़ोर से चाट, हाँ और चाट. वो और भी गरम हो गयी और मुझे गंदी गंदी गलियाँ देने लगी, साले कुत्ते की औलाद, बहनचोद कितनी देर तक मेरी चूत को चाटेगा? और अब डाल दे, मुझसे अब बर्दाश्त नहीं होता.

दोस्तों बर्दाश्त तो मुझसे भी अब नहीं हो रहा था. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और एक ज़ोर का झटका दिया और मेरा लंड फिसलता हुआ एक ही बार में पूरा का पूरा उसकी चूत के अंदर चला गया और वो दर्द से एकदम से उछली और अचानक उसके उछलने की वजह से लंड चूत से बाहर निकल गया.

मैंने अब की बार उसे कमर से कसकर पकड़ा और दोबारा से लंड को चूत के मुहं पर रखकर डालने लगा, तो वो बोली कि प्लीज आकाश थोड़ा धीरे करो, तुम्हारा लंड बहुत मोटा है, इससे मेरी चूत फट जाएगी, मुझे बहुत दर्द होता है. तो दोस्तों इस बार मैंने धीरे से लंड को धक्का दिया और अंदर की तरफ डाला और फिर धीरे धीरे झटके देने लगा, तो वो मोन करने लगी और बीच बीच में मुझे गालियाँ दे देती आह्ह्ह्हह उह्ह्हह्ह मादरचोद कुत्ते साले अह्ह्ह्हह्ह आईईईइ थोड़ा धीरे कर, में तेरी भाभी हूँ, में तेरी कोई रांड नहीं, धीरे कर साले. तो उसकी गालियाँ सुनकर मुझे और जोश चढ़ रहा था.

में और तेज़ हो गया और में बीच बीच में उसके कूल्हों पर किस भी करता रहा और वो जोर ज़ोर से चीखती चिल्लाती रही कि थोड़ा धीरे मार साले, मेरे कूल्हे लाल हो गये है और अमित को पता चल जाएगा, धीरे कर थोड़ा धीरे प्लीज़ आहह हाँ नहीं और कितनी देर है, में झड़ने वाली हूँ आहह उह्ह्ह्ह में झड़ने वाली हूँ, प्लीज़ मुझे और ज़ोर से आहह्ह्ह्ह और वो चिल्लाते हुए एकदम से झड़ गयी और उसके दो मिनट के बाद मेरा भी झड़ने का समय आ गया था. तो मैंने उससे कहा कि में अपना वीर्य कहाँ पर छोड़ूं?

तो उसने कहा कि कहीं भी, लेकिन प्लीज अब थोड़ा जल्दी कर मेरी चूत बुरी तरह से जल रही है, तो मैंने अपनी स्पीड बड़ाई और मैंने बिल्कुल आखरी टाईम पर लंड को उसकी चूत से बाहर निकाला और उसके मुँह में डाल दिया और उसके मुँह में झड़ गया और उसने मेरा सारा गरम गरम माल पी लिया. फिर हम वहीं पर थककर लेट गये और हमें कब नींद आ गई पता ही नहीं चला और दो घंटे के बाद उसने मेरे मुहं पर थोड़ा पानी डालकर मुझे उठाया और वो किचन में जाकर चाय बनाने लगी थी और वो अब भी सिर्फ़ पेंटी पहने हुई थी. तो हमने ऐसे ही नंगे ही बैठकर चाय पी. अमित दो दिन बाद आने वाला था और हमने उस मौके का फायदा उठाते हुए उन दो दिनों में बहुत मस्ती की.


error:

Online porn video at mobile phone


bhabi ka rapenew hindi hot sexbabi sxesexy bhabhi nangidevar bhabi sexkamukta story hindichut ki hindi kahaniadult story in hindi languagebaba ne chodamast gaand photorakha saxjija sali hindi sex storybahan ki chudai kahanihindi mastramhindi desi kahanimaa ko sab ne chodabhai behan ki chudai kihindi free sex storydesi suhagrat picdevar bhabhi sex storyindian sex khanirandi in hindihindi porn indianladki ki chudai storysex stories free downloaddost ki behan ki chudaisuhagrat ki kahani in hindipehli chudai ki story15 sal ki ladki ki chudaihindi randi pornsex in kasolantarvasna indian sex storiesMosi ki motigand mari.sexstorihot chachi ki chudaibeti ki chudai kichudai ke mast kahanisasur bahu sex story in hindigand mari hindi storychut ki aatmkathahindi bhabhi blue filmreal sex story in hindipriyanka ko chodajeth se chudichut ki gehraichudae ki kahanigirlfriend ki chudai hindi storyxxx in hindi storyaunty chudai ki kahanimanohar sex kahaniyan in hindihot saxy chutdesi bhabhi jiसब्जीवाले के साथ चुदाई indian sex massage storieschudai ki chachi kimoti gaand walihindi me chudaidesi story pornlesbian group pornmami ki bursexy chudai ki kahani in hindichachi ka balatkarbhabi ko zabardasti chodaindian porn storiesbaap ne ki beti ki chudaibada lodachudai ki kahani aunty ke sathlund in chootdriver ne ki chudaihindi sex book downloadsali ki chuchisexy sex romanceantarvasna hindi pdfromantic kahani