कच्ची कली की छोटी चूत को चोद के भोसड़ा कर दिया


kachchi kali ki chhoti chut ko chod ke bhosda bnaya:

हाय दोस्तों मेरा नाम सुंदर सिंह है और मैं मध्य प्रदेश जबलपुर का रहने वाला हूं| मेरी उम्र 18 साल है और मैं क्लास 11वीं  में पढ़ता हूं| मेरी हाइट 5 फुट 5 इंच है मेरा रंग साफ है और स्मार्ट भी दिखता हूं और काफी खुले विचार का व्यक्ति हूं | मेरी फैमिली में चार लोग रहते हैं मैं मेरा बड़ा भाई  मेरे पापा और मम्मी | अब मैं आपको अपनी कहानी बताने जा रहा हूं|

अब से करीब 4 महीने पहले की बात है | मेरा पहला दिन था कोचिंग जाने का और जब मैं कोचिंग पहुंचा  तो मुझे पता चला मेरे घर के पास जो मेरी  फ्रेंड रहती है वो भी वही कोचिंग ज्वाइन करी हुई हैं … उसका नाम मानसी है और उस दिन के बाद से फिर हम दोनों ने साथ ही में कोचिंग जाना शुरु कर दिया | हम लोगों को कोचिंग जाते जाते 4 दिन हो चुके थे और पांचवे दिन मैं कोचिंग जाने में थोड़ा लेट हो गया और मेरे कारण मेरी फ्रेंड मानसी भी कोचिंग जाने में लेट हो गई और  हम लोग जैसे ही कोचिंग गए हमारी कोचिंग वाली दीदी ने हम लोगों को कोचिंग में आने से मना कर दिया | हम लोगों की टीचर काफी स्ट्रिक्ट थी और उन्होंने हम लोगों को कोचिंग से भगा दिया| हम लोग कोचिंग से बाहर निकले तो चलते चलते मेरी फ्रेंड मानसी ने मुझसे बोला कि यार जल्दी घर जाकर हम क्या करेंगे चलो कहीं और चलते हैं तो हम लोग एक जगह जाकर बैठ गए | फिर मानसी मुझसे बोली कि यहां तो टाइम पास  नहीं  हो रहा है तो मैंने अपने फ्रेंड अंशुल को फोन लगाया और जहां हम लोग बैठे थे वहां पर बुला लिया और उसके बाद मानसी ने भी अपनी एक फ्रेंड को बुला लिया जिसका नाम अंजू था | अब हम चारों वहां पर बैठ कर बातें कर रहे थे और साथ ही साथ सोच रहे थे कि क्या किया जाए तो अंजू ने कहा कि चलो एक गेम खेलते हैं बोतल घुमाने वाला तो फिर  मैंने बोला यार  वो क्या होता है तो उसने कहा कि हम चारों गोला बनाकर बैठेंगे और बीच में बोतल घुमाई  जाएगी और जिसके ऊपर भी उसका  सामने वाला हिस्सा आएगा उसको दाम देना होगा | उससे बाकि के तीन लोग  सवाल पूछेंगे और कोई सा भी काम करने को देंगे जिसके ऊपर दाम आएगा उसको बाकी तीनों की बात माननी ही  पड़ेगी मैंने कहा ठीक है चलो खेल खेलना  शुरू करते हैं,,,,

फिर हम लोग गोला बना कर बैठ गए और खेल खेलना शुरु कर दिए बोतल घुमाई  गई और जिसके  ऊपर भी बोतल का  सामने वाला हिस्सा आता था उसको जो काम बताया जाये  वह काम करना पड़ता था | ऐसे ही 1 दिन बीत गया | फिर दूसरे दिन हम लोग फिर कोचिंग नहीं गए और वहीं जाकर हम चारों ने बैठकर खेल खेलना शुरु कर दिया धीरे-धीरे खेल में बदलाव आते गए और फिर मैंने कहा जिसके ऊपर भी दाम आएगा उसको मानसी के हाथ में किस करना होगा | यह बात सुनकर अंशुल ने भी हां कर दिया और अंजू और मानसी लोगों ने भी थोड़ा बहुत एटीट्यूड दिखा कर हां कर ही दिया और उसके बाद बोतल घूमी और दाम अंशुल पर आया | मैंने कहा अब तुझे मानसी के हाथ में किस करना होगा तो उसने ऐसा ही किया | उसके बाद अगला दाम मेरे ऊपर आया तो अंशुल ने कहा तुझे भी  अंजू  के हाथ में किस करनी होगी मैंने कहा ठीक है अंजू ने पहले मना किया फिर बाद में हां कर दिया | उसके बाद अगली बार दाम अंशुल के ऊपर आया तो मैंने कहा तेरे को अब मानसी से गले मिलना होगा उसने मना किया पहले पर मैंने और अंजू ने उन लोगो को फ़ोर्स किया तो मानसी भी मान गई | फिर उन लोगों ने गले मिला उसके बाद अगला दाम  अंजू के ऊपर आया मानसी ने बोला तुझे सुंदर को किस करना होगा उसके गाल पर मैं तो राजी हो गया पर अंजू  थोड़ी देर से राज़ी हुई  फिर उसने मुझे गाल पर किस किया| उसके बाद अगला दाम मेरे ऊपर आया और अंशुल और मानसी ने बोला की अब तुम दोनों को लिप्स में किस करनी होगी मैं तो राज़ी  था और उसको भी बाद में बात माननी पड़ी | क्या करती खेल का नियम ही कुछ एसा था की पीछे नहीं हट सकते थे …फिर हम लोगों ने एक दूसरे के लिप्स पर किस की और हम दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे और दूसरी तरफ अंशुल और मानसी भी एक दूसरे के रिलेशनशिप में आ गए | फिर  दुसरे दिन मैंने भी अंजू को प्रपोज कर दिया और वह भी मेरे से बहुत अट्रैक्ट हो चुकी थी….

अब  मानसी अंशुल की गर्लफ्रेंड बन चुकी थी और अंजू मेरी और यहां से मेरी लव स्टोरी शुरु हुई | मैं अंजू को कई बार बहार घुमाने फिराने ले जाया करता था साथ में हम लोग डिनर किया करते थे | कभी कभी …और फोन पर भी खूब बातें किया करते थे फिर एक दिन में उसको एक होटल पर लेकर गया हम लोगों ने साथ में खाना खाया | फिर मैंने होटल में रूम बुक किया और हम लोग रूम में गए और बातें की फिर मैं उसके धीरे-धीरे करीब जाने लगा | उसका हाथ पकड़कर उसे किस की हाथों पर फिर वह मेरे गले मिली .. फिर मैंने उसको लिप्स पर किस की और उसे बिस्तर पर लेटा दिया और मैं उसे किस करने लगा और उसके बूब्स भी दवा राहा था करीब 15 मिनट तक हम लोगों ने किस की पर इसके बावजूद भी मैं उसके साथ सेक्स नहीं कर पाया क्योंकि उसको जल्दी घर जाना था वह भी मजबूर थी तो फिर हम लोग एक दूसरे के लास्ट बार गले मिलकर आ गए |

…..घर आने के बाद मेरे मन में बस उसी का ख्याल आ रहा था बस उसके साथ सेक्स करने की इच्छा हो रही थी | बस कैसे भी करके उसके साथ मुझे अब सेक्स करना ही था | पर मुझे कोई मौका नहीं मिल पा रहा था ना ही मेरा घर कभी खाली रहता था और मैं थोड़ा हिचकिचाता भी था उससे बोलने में कि कहीं वह बुरा ना मान जाए सेक्स की बातों को लेकर …

ऐसे ही कुछ दिन निकल गए   …..मैं रोज उसके  बारे में मन में ही  सोच लिया करता  था कि में उसे चोद रहा हूँ| उसे प्यार कर रहा हूँ और उसके बूब्स दवा रहा हूँ और यह सब सोचकर मुठ मार के सो जाया करता था | पर एक दिन उसका फोन आया और वह मुझसे बोली कि आज मेरे घर पर कोई नहीं है मेरा घर आज रात को भी खाली रहेगा तुम मेरे से मिलने आ जाओ और वैसे भी अपन बहुत दिनों से मिले भी नहीं हैं |

…. यह सब सुनकर मै खुश हो गया मैंने कहा ठीक है और पूछा कब आना है तुम्हारे पास वह बोली बस 2 घंटे बाद मेरे पापा मम्मी तब तक चले जाएंगे और मेरा घर खाली हो जाएगा |

मै ढाई घंटे बाद उसके घर पहुंच गया मैंने उसके गेट की रिंग बजाई और उसने गेट खोला और जैसे ही मैंने उसे देखा …उसको देखकर तो मैं पागल ही हो उसने नील रंग का जम्प सूट पहना हुआ था और उसकी ड्रेस स्किन टाइट थी | जिससे की उसके फूले हुआ बूब्स दिख रहे थे और उस को देख के अब मुझसे और इंतज़ार नहीं हो रहा था | मैंने सीधे उसको अपने गले से लगा लिया उसने बोला रूको तो थोडा | मैंने कहा बस डार्लिंग अब मुझसे और वेट नहीं हो रहा | उसने कहा तो फिर चलो अन्दर चलते है मैंने कहा हां चलो फिर वो मुझे अपने कमरे में ले कर गई और जाते ही मैं उसे किस करने लगा और उसका जम्प सूट उतर दिया | उसने पिंक कलर की बिकनी और पेंटी पहनी हुई थी | उसको बिकनी और पेंटी  पहने हुए देख के मेरा लंड खड़ा हो गया |

मै उसको गले लगा के किस करने लगा और उसके दूध दवाने लगा वो भी बहुत सेक्सी फील कर रही थी और गरम हो रही थी | फिर मैंने उसको पलंग पर लिटा दिया और उसकी बिकनी उतार दी | क्या बूब्स थे यार उसके बड़े बड़े और बिलकुल वाईट उसे देखकर मै उसके दूध को चूसने लगा और उसके गला चुमते हुए उसके लिप्स में किस करने शुरू कर दिया | फिर उसने मेरी शर्ट और जींस उतारी और मैं भी अंडर वियर में आ गया फिर मैंने उसकी पेंटी उतार दी | उसकी चूत में एक भी बाफल नहीं था और एक दम गोरी पिंक कलर की छोटी सी  थी | मै उसकी चूत के अन्दर अपनी जीभ डालकर चाटने लगा और 10 मिनट उसकी चूत चाटी |

वो आआह्ह्ह अआह्ह्ह आवाज निकाल रही थी और पूरी तरह गरम हो गई थी| फिर मै खुद भी नंगा हो गया और उसको पलंग में लेटा दिया और उसके पैरों को फैला कर उसकी चूत को ऊँगली डालकर सहलाने लगा| उसे भी काफी मजा आ रहा था फिर में उसके पैरों को चुमते हुए उसकी चूत को फिर चाटना शुरू कर दिया | उसे खूब मजा रहा था वो अआह्ह्ह  अआह्ह्ह कर के मेरे चेहरे में हाथ फेर रही थी | मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था |  फिर मैंने अपना लंड उसे मुंह में लेने के लिए कहा पहले तो उसने मना किया लेकिन बाद में मान गई फिर मैंने अपना लंड उसके मुंह में डाल दिया | वो भी बड़े आराम से मेरे लंड को चूस रही थी और मेरा जोश और बढ़ गया 10 मिनट तक उसने मेरा लंड चूसा |

फिर मैंने उसका पैर फैलाया और चूत पर अपना लंड रखकर अन्दर डालने की कोशिश की लेकिन चूत टाइट होने के कारण लंड अन्दर नहीं जा रहा था | तो मैंने उससे कहा थोडा सा तेल लेकर आओ तो वो तेल लेकर आई मैंने अपने लंड पर और उसकी चूद पर तेल लगाया | फिर उसकी चूद पर लंड रख एक जूर का झटका मारा जिससे लंड 2’’ तक उसकी चूत के अन्दर घुस गया और वो चीखने लगी और दर्द से तड़पने लगी | तो मै वैसे ही थोड़ी देर रुका और उसे किस करने लगा | थोड़ी देर में वो नॉर्मल हुई तो मैंने एक और जोरदार झटका लगाया जिससे वो तड़पने लगी और मुझसे लंड बहार निकलने की मिन्नतें करने लगी और रोने लगी| उसकी चूत से बहुत सारा खून निकल रहा था | मैंने उससे कहा जानू फर्स्ट टाइम ऐसा होता है थोड़ी देर में सब नॉर्मल हो जायेगा |

उसने मेरे लिप्स से अपने लिप्स लगा दिए और मुझे ज़ोर ज़ोर से लिप किस करने लगी और उसका दर्द कम होने लगा | तो मेने धक्के लगाना स्टार्ट किये और झटके लगाने लगा उसे भी मज़ा आने लगा वो जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी और   .. आह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्हह्ह कर रही थी और कह रही थी और तेज मेरी जान और तेज तो फिर मैंने भी उसको और ज़ोर  से चोदना  शुरू कर दिया | फिर मैंने उसे कई बार अलग अलग तरीको से चोदा और उसकी चूत से खून भी आ रहा था और साथ ही साथ उसको किस भी कर रहा था| उसके बड़े बड़े दूध भी दावा रहा था करीब 1/2 घंटे तक मैंने उसके साथ सेक्स किया | वो 3 बार झड चुकी थी  मुझे इतना मजा रहा था की मैं आपको बता नही सकता | आखरी में जब मेरा जड़ने वाला था तो मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकल कर उसके मुंह में डाल दिया| वो जोर जोर से मेरा लंड अपने मुंह में ले कर हिलाने लगी और फिर मै झड गया| फिर  हम लोगो ने किस की और फिर साथ में सो गए … और उस दिन मैंने उसे कई बार चोदा और अब भी जब मौका मिलता है उसे चोदता हूँ…….



Online porn video at mobile phone


chudai kahani with videorandi mummypati ke samne chudaimaa ki gand mari khet mestory hindi antarvasnapati patni ki suhagraatbhabhi ke sath rapehindi story chudai kisauteli maa ki chudaihot bhabhi chudai storyhindi zex storychut ki hindi kahanidoctor sex hindihindi bhai behan chudaidesi sex 2050mastram ki mast chudai kahanichudai ki kahani hindi maysexy kahaniybhai behan chudai hindiअंकल से चुदवाने के चक्कर में हुआ रेप भाग 1hindi sex porn storysex garlchudai kahani salifree chudai story hindiकरwww com hindi sexy filmladki ki chudai ki kahani hindinew sexy storys in hindisexy sadhuwww hindi sexy storyhindi adult kahanichut ki chudai indianhindi chodai filmdesi chudai antarvasnahot aunty hindisapna aunty ki chudaiDever bhabi 2019 ki priyanka bhabi ki anterwasnadesi bhai behan ki chudainangi ladki ki chootchoot saxykahani bur chudai kibhabhi ki chudai hotel mebhabi or devar sexindian suhaagraat pornhindi sexiestbur me lundsexbhabhisexy hindi chudai kahanibehan ki nangi choothindikahaniyanantarvasna ki storymeri chut chudai kahanichachi ki chudai hindi maisambhog katha in hindihindi sax xxxgaand ki kahanihindi chudai kahani hindisavita bhabhi chudai story in hindichudai story with videonaukrani porngirl ki gand marisexy boobs ki chudaichut ki shayarichudai story bestchudai bf semami ne muth maradevar bhabhi sexy kahanibehan ki chudai ki hindi kahanichoti bahan ki chudaibiwi ki chudai dost ne kiwww chudai ki kahani hindi me comkam wasnagaand wali auntyhindi sex marathidesi sexsyindian sex kahani comammi ki chudai ki kahani