मिलन हो गया मेरा आज


sex stories in hindi, desi porn kahani

मेरा नाम दीपक है और मैं कॉलेज में पढ़ने वाला 23 वर्ष का युवक हूं। मेरा कॉलेज हमारे शहर का सबसे बड़ा कॉलेज है। मैं लखनऊ का रहने वाला हूं और मुझे कॉलेज में सब लोग हीरो कह कर बुलाते हैं। क्योंकि मैं दिखने में बहुत ही हैंडसम हूं। सब लोग मुझसे बहुत ज्यादा प्रभावित रहते हैं और जब भी कोई कंपटीशन या प्रतियोगिता हमारे कॉलेज में होती है तो उनमें मैं बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता हूं। क्योंकि मैं डांस करने में बहुत ज्यादा परफेक्ट हूं। मैं बचपन से ही डांस करता आ रहा हूं। जिसकी वजह से कॉलेज की सारी लड़कियां मुझसे बहुत ही ज्यादा प्रभावित रहती हैं और वह किसी ना किसी तरीके से मुझसे बात करना चाहती है। परंतु मैं किसी भी लड़की से बात नहीं करता। मैं सिर्फ अपने दोस्तों के साथ रहता हूं। मुझे लड़कियों के साथ बात करना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता क्योंकि मुझे ऐसा लगता है उन्हें कुछ भी बात कहो तो वह बात का बतंगड़ बना देती हैं और काम की बात तो करती ही नहीं है। इस वजह से मैं उनसे बात नहीं करता। मैं अपने दोस्तों के बीच में ही मस्त रहता हूं और कॉलेज में हम लोग बहुत मजे किया करते हैं। हम लोग कैंटीन में बैठकर बहुत ही हुडदंग मचाते हैं और शोर करते हैं।

कैंटीन वाले अंकल भी हमसे बहुत परेशान रहते हैं लेकिन जब तक हम लोग कैंटीन में नहीं जाते तब तक उनकी कैंटीन में रौनक नहीं रहती। इसलिए वह हमें कुछ नहीं कहते और हम लोगों का उनके कैंटीन में बहुत ज्यादा उधार भी चलता है। क्योंकि हमारे पास इतने पैसे होते नहीं है इसलिए हमें उधार में ही उनसे सामान लेना पड़ता है और धीरे-धीरे करके हम लोग उनके पैसे देते जाते हैं। हमारे कॉलेज में एक लड़की है उसका नाम रंजना है। वह बहुत ही सुंदर है लेकिन वह बहुत ज्यादा घमंडी किस्म की लड़की है। मुझे उससे बात करना बिल्कुल भी पसंद नहीं है। वह हमारी क्लास में ही पड़ती है और मेरा उससे कई बार झगड़ा भी हो चुका है। वो भी मुझसे बहुत ज्यादा झगड़ती रहती है और जब भी उसे मौका मिलता है तो वह उसका फायदा जरूर उठाती है। उसे जब भी मौका मिलता है तो वह मेरी शिकायत हमारे टीचरों से कर देती है। वो हमेशा मुझे गलत ठहराने की कोशिश करती रहती है। जिस वजह से वह मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है और मैं उसे कितनी बार कहता हूं कि तुम इस तरह की हरकत मत किया करो लेकिन वह फिर भी मेरी बात मानने को तैयार ही नही होती।

एक दिन मैं गलती से लेडीस टॉयलेट में चला गया और उसने बाहर से टॉयलेट का दरवाजा बंद कर दिया और जब उसने टीचरों को बुलाया तो सब लोग मुझे बहुत डांटने लगे और कहने लगे कि तुम लेडीस टॉयलेट में क्या कर रहे हो। मैंने उन्हें कहा कि सर मैं गलती से इसमें चला गया। उसकी वजह से मेरी बहुत ज्यादा इंसल्ट हुई। क्योंकि उसने टॉयलेट का बोर्ड बदल दिया था और लेडीस की जगह उसने जेंट्स का बोर्ड लगा दिया था। उस दिन मैंने उसे बहुत ही खरी-खोटी सुनाई और वह भी मुझसे बहुत झगड़ा करने लगी। मैंने उसे कहा कि मैंने कभी भी तुम्हारे साथ इस तरह की बदतमीजी नहीं की है। तुम बेमतलब मेरे सिर चढ़े जा रही हो और फालतू में मुझे बदनाम करने की कोशिश करती रहती हो।  क्योंकि तुम मुझे हमेशा ही नीचा दिखाने की कोशिश करती हो। इस वजह से मुझे तुम बिल्कुल भी पसंद नहीं हो। रंजना और मेरे बीच में बिल्कुल भी नहीं बनती थी। यह बात पूरे कॉलेज को पता थी।

एक बार हमारे कॉलेज में डांस प्रतियोगिता का आयोजन होने वाला था। मैं अपने कॉलेज में ही किसी लड़की को देख रहा था। जो मेरे साथ डांस कर पाए लेकिन हमारे कॉलेज में कोई भी लड़की ऐसी नहीं थी जो मेरे साथ डांस कर पाए। मैंने एक दो लड़कियों के साथ डांस करने की सोची, परंतु उनके साथ मैं कंफर्टेबल होकर डांस नहीं कर पा रहा था। जिस वजह से मुझे लग रहा था कि मुझे कोई दूसरी लड़की के साथ डांस करना पड़ेगा। मेरे एक दोस्त ने मुझे सलाह दी कि तुम रंजना के साथ डांस कर लो। क्योंकि वह बहुत ही अच्छा डांस करती है। मैंने उससे कहा कि तुम्हारा दिमाग तो सही है। मैं उसके साथ कैसे डांस कर सकता हूं। मैं उसे बिल्कुल भी पसंद नहीं करता। वह कहने लगा पसंद दूसरी बात है लेकिन तुम्हें इस समय कोई लड़की ऐसी नहीं मिलेगी जो तुम्हारे साथ डांस कर पाए। क्योंकि रंजना ने भी उस डांस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया हुआ था। इसलिए उसे भी कोई सही पार्टनर नहीं मिल पा रहा था और जब मैंने रंजना से डांस की बात कही तो उसने तुरंत ही हां कर दी। क्योंकि मुझसे अच्छा डांस पार्टनर उसे कहीं नहीं मिल सकता था। यह बात उसे भी पता थी और उसने अपने फायदे के चलते मेरे साथ डांस करने के लिए हां कह दिया। अब वह मेरे साथ डांस करने लगी लेकिन वह भी मेरे साथ अच्छे से डांस नहीं कर पा रही थी। जिस वजह से मैं उसे डांट देता। एक दिन वह गुस्से में चली गई लेकिन फिर अगले दिन वहां आई। मैंने उसे कहा कि तुम बेमतलब ही गुस्सा हो रही हो। यदि तुम गलत स्टेप करोगी तो मैं तुम्हें डाटूंगा ही। अब हम दोनों अच्छे से डांस करने लगे और जब डांस कंपीटिशन था तो हम दोनों ही उसमें प्रथम आए। हमें जो कॉलेज से प्राइज मनी मिला था। उसकी हम दोनों ने बहुत जमकर पार्टी की और अपने सब दोस्तों को पार्टी करवाई। अब रंजना और मेरे बीच में थोड़ी बहुत रिश्ते सुधरने लगे थे और हम दोनों फोन पर भी बात कर लिया करते थे। धीरे धीरे उससे मेरी अच्छी बात होती गई और वह मेरी एक अच्छी दोस्त बन चुकी थी।

हम दोनो बहुत ही करीब आ चुके थे और हमारी नज़दीकियां बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी। एक दिन रंजना जब कॉलेज में आई तो वह उस दिन बहुत ज्यादा सुंदर लग रही थी। क्योंकि वह अधिकतर जींस पहनती है लेकिन उसने उस दिन पटियाला सूट पहना हुआ था जिसमें उसका बदन पुरा अलग ही नजर आ रहा था। मुझे बहुत मजा आ रहा था जब मैं उसे देख रहा था। मैं उसके पास जाकर बैठ गया और उसके हाथों को अपने हाथ में लेना शुरू कर दिया। मैंने उसके हाथ पर किस कर दिया जिससे वो शरमा गई और अब उसे भी कंट्रोल नहीं हो रहा था। हम दोनों अपने कॉलेज के हॉल में चले गए जहां पर हम लोग प्रैक्टिस किया करते थे क्योंकि आजकल वहां पर कोई भी नहीं जाता था। मैंने रंजना के होठों को किस किया तो उसने भी मेरे होठों को किस करना शुरू कर दिया। हम दोनों एक दूसरे के होठों को बहुत ही अच्छे से किस कर रहे थे। उसे बड़ा ही मजा आ रहा था जब वह मेरे होठों को अपने होठों में लेकर चूस रही थी। थोड़ी देर बाद उसकी उत्तेजना बहुत बढ़ गई और उसने अपने सारे कपड़े उतार दिए। जब मैंने उसका नंगा शरीर देखा तो मुझे उसका शरीर देखकर बहुत ही अच्छा लग रहा था। उसने लाल रंग की ब्रा पहनी हुई थी और मैंने उसकी ब्रा के अंदर से ही उसके स्तनों को अपने मुंह में ले रहा था। मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए थे और उसे वही जमीन पर लेटा दिया। मैंने उसके दोनों पैरों को चौड़ा करते हुए उसकी योनि को चाटना शुरू किया ।उसकी योनि को जब मैं चाट रहा था तो मुझे बहुत मजा आ रहा था उसकी योनि पूरी गीली हो चुकी थी। अब मैंने अपने लंड को जैसे ही उसकी चूत के अंदर डाला तो वह उछल पड़ी और उसकी चूत से खून निकलने लगा। मुझे बहुत ही मजा आ रहा था और मैं उसे बड़ी तेज गति से चोद रहा था। वह मेरा पूरा साथ दे रही थी और अपने मुंह से सिसकियां निकालती जाती। मुझे बड़ा ही मजा आता जब वह इस प्रकार से अपने मुंह से सिसकियां ले रही थी। कुछ देर बाद उससे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हुआ और वह झड़ चुकी थी। लेकिन उसकी चूत से जो गर्मी निकल रही थी। उसको मैं बर्दाश्त नहीं कर पाया। मेरा वीर्य गिरने वाला था मैंने अपने लंड को बाहर निकालते हुए उसके स्तनों पर अपना वीर्य गिरा दिया। जब मैंने अपना वीर्य उसके स्तनों पर गिराया तो वह बहुत ही खुश दिखाई दे रही थी। उसके बाद रंजना और मेरे बीच में बहुत बार संबंध बन चुके हैं। उसे मेरे साथ सेक्स करना बहुत ही अच्छा लगता है और वह अक्सर मेरे साथ सेक्स किया करती है। मैं उसे बहुत ही अच्छे से चोदा करता हूं। उस से रहा नहीं जाता और वह मुझे बीच-बीच में कहती रहती है कि मुझे तुम चोदते नहीं हो।

 


error:

Online porn video at mobile phone


badmast comgay story in marathirelation me chudai ki kahanichut landhpadosividhwa bhabhi ki chudaisex hindi bhabhimummy ne chodna sikhayawww hindi blue picture comhindi chudai ki kahani newvery gandi storieschudai ki story in hindi fontjija sali xxxstory xxx hindi meaunty ki chudai newindian chudai ki kahanibhai ka lund chusamami ka chodaindian xxx storiesbhabhi ko patananangi ladki ki chudai ki videoantarwashna comgang chudai storychut hindi sex storysex stories bestbollywood chudai storychoot ka paniindian sex stories wifebhayanak chudai ki kahaninangi sexy storynew hot chudai storyhindi language chudai kahanimummy ko jamkar chodahindi chachi ko chodahindi bur chudai kahanisali ki chutnew marathi sexy storymaa ko chodna haidevar jisuhagrat romancecudaiAntarvasna goa gaye maa beta papa baad me aaye office ke kaam seadult story in hindi languagesex story hindi alldesi gay storiesmausi ki beti ki chudaikahani ek chut kiSuhagarata ma kya karata hai hindima storynew suhagrat sexmousi ki chudai kahaniaunty in hindibhai ne dosto ke sath chodamaa bete ki chudai ki kahani hindi mesavita ki chootrandi ki boor chudaihindi sexxisexy chudai storymummy ki chudai ki kahaninokrani ki varjin gand mari hindichachi chudaisex xxx hindi storyadult stories in hindi fontkhala ki chudai ki kahaniup desi sexsil pek sexbehan ki chikni chuthindi sex kahani pdfhinde saxe storychut chaatichudai jawani