रंडी की चूत


desi sex story, indian chudai ki kahani

हाय फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब ? मेरा नाम कार्तिक है और मैं कटनी का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 24 साल है और मैं अभी नेता नगरी में नया नया भरती हुआ हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी काद्काठी अच्छी है | दोस्तों मैं एक बहुत चुदासी लौंडा हूँ और मैं चुदाई का बहुत शौक़ीन हूँ | अगर मेरा बस चले तो मैं दिन भर चुदाई करता रहूँ लेकिन दिक्कत तो ये है न कि वीर्य भी तो उतना बने और स्टैमिना भी हो | खैर, दोस्तों मैं जितना मैं चुदाई का शौक़ीन हूँ उतना ही चुदाई की कहनियाँ पढने का भी शौख रखता हूँ | ये शौख मेरा तब से है जबसे मैं बारहवीं में पढाई किया करता था | मैं रोज ही रात को चुदाई की कहानियां पढता हूँ और मुझे भाभी की चुदाई की कहानी पढने का बहुत शौख है | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की एक दम सच्ची घटना पर आधारित है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को मेरी ये कहानी पसंद आयगी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूँगा और अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

दोस्तों, आप सभी जानते हैं कि चुदाई क्रिया जितना प्यार का एहसास दिलाती है उतनी ही मुश्किल से मिलती है | हमारे यहाँ अगर चूत लंड ढूँढने निकलने तो उसको आसानी से कई लंड मिल जायेंगे लेकिन अगर वहीँ लंड चूत ढूँढने निकलने तो उसका लंड लटक जायगा मगर चूत नहीं मिलेगी | ऐसा ही मेरे साथ भी हुआ जो मैं इस कहानी के माध्यम से आप लोगो को बता रहा हूँ | उस समय मैं कॉलेज में था और बस मुठ मार कर ही मेरा काम चल रहा था | अब लोगो की सेटिंग थी मेरे साथ वालो की तो उनको चूत मिल जाती थी और वो जब मुझे कहानी सुनाते थे तो मेरा लंड खड़ा हो जाता और मेरा मन भी चूत चोदने के लिए तड़प जाता | अब मैंने भी फैसला कर लिया था चाहे जो हो जाये मुझे चूत चोदना है | अब मैंने अपने एक मोहल्ले के दोस्त से पूछा कि भाई मुझे कोई रंडी की ही चूत दिलवा दे पैसे की कोई बात नहीं है मैं दे दूंगा मगर मुझे चूत चाहिए | उसने कहा ठीक है चल मेरे साथ | मैं तुरंत तैयार हो गया और हमारे यहाँ पर एक रंडी खाना है जो कि स्टेशन के पीछे है | वहां रंडियां सस्ती मिलती है | जब हम दोनों वहां पंहुचे तो उस समय शाम के 4 बज रहे थे तो उसने कहा कि रुक जा शाम को रंडी खुद आती है और वो खुद ही बुलाती है | मैंने कहा ठीक है | कुछ देर इन्तजार करने के बाद एक भाभी जैसी लड़की आई और सब्जी वाले के पास आ कर बैठ गई | मेरे दोस्त ने कहा भाई ये है रंडी जा कर बात कर ले | मैंने कहा अबे मैं कैसे कर सकता हूँ न जान न पहचान | तो उसने कहा अबे मैं नहीं जा सकता कुछ कारण है इसलिए तू जा कर बात कर ले | मैंने कहा चल ठीक है मेरे लंड की जरुरत है तो मैंने तो जाऊँगा ही | फिर मैं थोडा हिचकिचाते हुए वहां पंहुचा और मैंने उन्हें नमस्ते किया | उस रंडी ने कहा ऐ चिकने नमस्ते छोड़ | काम की बात कर | मैंने कहा मुझे चुदाई करनी है कीमत बताओ ? तो उसने कहा एक हज़ार रूपए लगेगा | मैंने कहा चलो ठीक है पर मेरे पास जगह नहीं है | तो उसने कहा पहले हज़ार रूपए रूपए दे फिर मैं ले चलती हूँ | मैंने कहा मुझे पैसे देने में कोई बुराई नही है | लेकिन अगर तू पैसे ले कर भाग गई तो | उसने कहा अरे नहीं भागुंगी | अच्छा चल मेरे साथ | फिर वो मुझे एक कोठरी जैसे दिखने वाले घर की तरफ ले कर गई | वहां पर बहुत अजीब सी जगह थी और बहुत छोटे छोटे कमरे में थे | हर कमरे में चुदाई चल रही थी | ये देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया | फिर वो मुझे एक कमरे में ले कर गई जो पूरा खाली था और वहां पर एक बिस्तर पड़ा हुआ था | मैंने उसे कहा की मुझे अभी चुदाई करनी है | तो उसने कहा अरे रुक जा कितनी गर्मी है तेरे अन्दर | तो मैंने कहा तू बस चुदाई से मतलब रख और मेरी गर्मी उतार और सुन ये ले एक हज़ार रूपए और ले | उसने पूछा एक हज़ार और क्यूँ ? तो मैंने कहा मुझे पूरे तरीके की चुदाई करनी है |

मेरा कहने का मतलब वो समझ गई | फिर उसने मुझे दूध ला कर दिया और मैंने पी लिया | फिर उसके बाद मुझे हल्का सा नशा टाइप लगने लगा तो मैंने कहा हाँ अब मजा आयगा | मैं उसके पास गया और उसका हाँथ पकड़ के अपनी तरफ खींचा तो वो सीधा मेरी बांहों में आ कर गिरी | फिर मैंने तुरंत ही उसके होंठ में अपने होंठ लगा कर उसके होंठ का रसपान करने लगा | वो भी मेरा साथ दे रही थी और मेरे होंठ को चूसने लगी | जिस रंडी की मैं चुदाई करने जा रहा था उसका नाम रज्जो था और वो दिखने में गोरी थी | गोरे होने के साथ उसका बदन भी बहुत भरा हुआ और सेक्सी था | उसके चूतड़ काफी बड़े थे | किस करने के बाद मैंने उसके सूट को उतार दिया और फिर उसके बाद मैंने उसका ब्रा भी उतार दिया | फिर मैंने उसके दूध को अपने मुंह में लिया और बारी बारी से चूसने लगा तो उसके मुंह से आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | मैं समझ गया कि इसको मजा आ रहा है तो मैं और जोर जोर से उसके दूध को मसलते हुए चूसने लगा तो वो भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए मेरे सिर पर हाँथ फेरने लगी | मैंने उसके दूध को करीब 10 मिनट तक खूब चूसा | फिर उसके बाद मैंने भी अपने पूरे कपड़े उतार दिया और उसके सामने ही नंगा हो गया | उसकी नजर मेरे लोहे जैसे लंड पर पड़ी तो उसकी आँख फट गई और उसने कहा कि तेरा लंड तो फौलादी है | मैंने अब तक ऐसा मस्त लंड नहीं देखा | तो मैंने कहा लंड इतना मस्त है लेकिन आज तक मुझे अच्छी चूत नहीं मिली | तभी तो यहाँ मैं चुदाई करने के लिए आया हूँ | फिर उसके बाद मैंने उससे कहा कि अब मेरा लंड चूसो | तो फिर उसने मुझे धक्का दे कर बिस्तर पर गिरा दी और खुद जमीन पर बैठ कर मेरे लंड को चाट कर गीला करने लगी तो मेरे मुंह से आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह की सिस्कारियां निकलने लगी |

वो मेरे लंड को जब अच्छे से चाट कर गीला कर दिया तो फिर उसने मेरे लंड को अपने मुंह में डाल कर चूसने लगी तो मैं भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उसके सिर को अपने लंड पर दबाने लगा | वो मेरे लंड को जोर जोर से ऊपर नीचे करते हुए चूस रही थी और मैं आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उसके मुंह की चुदाई करने लगा | फिर उसने मुझसे कहा कि अब तू मेरी चूत चाट | तो मैंने फिर उसे लेटा दिया और उसकी चूत पर हाँथ फेरने लगा | फिर मैंने जीभ से उसकी चूत को चाटने लगा तो वो आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए उचकने लगी | मैं उसकी चूत के अन्दर तक जीभ से चाट रहा था और वो आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए मचल रही थी | फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर तैनात किया और एक ही धक्के में अन्दर डाल दिया | उसकी चूत खुली हुई थी तो लंड को अन्दर जाने में कोई परेशानी नहीं हुई | फिर मैंने उसकी चूत को चोदने लगा और मुझे काफी मजा आ रहा था चुदाई करने में और वो भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने रही थी | कुछ देर बाद मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से चोदने लगा तो वो भी आहा ऊनंह ऊउम्म्म्ह आहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहाआअ उऊंनंह ऊउम्म्ह करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी | कुछ देर चुदाई करने के बाद मैंने अपना वीर्य उसकी चूत के ऊपर निकाल दिया | फिर उसके बाद मैंने कभी चुदाई करने नहीं गया अब मेरे पास एक लड़की है जिसकी मैं कभी कभी चुदाई कर लेता हूँ |

तो दोस्तों, ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी जरुर पसंद आई होगी |



Online porn video at mobile phone


garam biwibhabhi ko planing se chodaindian saxy antychudai ki kahani hindi mamami ki chudai hindi kahanibeti ki chudai ki storybhai behan ki chudai ki kahanikhala chudaidirty story in hindigaon ki sexantarvasna indian hindi sex storieshindi xxx khanikali ladki ko chodasex story in hindi pdf filegand chut picsantarvasna hindi free downloadchudai xxxnew chudai storychuchi bigchudai raatxxxx chotmeri chut ki kahanichudai meaningchodna sikhayejija sali kisistar ki gand marisaxy gandindian bhabhi with devar sexjija sali ki chudai kahanisaxy story hindi mebhabhi ke sath rapesali jija ki chudairandi ki kahanimaa ke sath shadischool teacher ki chudai ki kahaniraat ko chut marifree porn stories in hindiaunty doodhbehan ki chudai hindi kahanihindi desi hotkamwali bai sex comdesi bhabhi chudai storysaxy kahani2014 ki chudai ki kahanidevar bhabhi ki sexy kahanimarathi bhasha sexfull chudai commaa bete ki chudai comxxc hindiantervasan sex bf storeybhai bahan ki chudai ki hindi kahanichudai photo ke sath kahanibhabi sex downloadbachpan ke dinbahan ki chut kahanidudhvali comअंतरवाशना माँ चुदी कार मेँ गाडmaa ke sath suhagraatsex story hindi moviedesi choot bhabhibhabhi se chudai ki kahanibete se chudai kahaniantvsnameaning of chutbahu ki chudai ki storygf ki chudai kahanidesi aunty kahanihindi sexy latest storydesy kahanichoot ka swadsagi bahan ki chudai in hindi